Uttarakhand Goverment

देहरादून। केजरीवाल ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत करते ही कहा कि देवभूमि में आकर अच्छा लग रहा है। भगवान ने उत्तराखंड को सबकुछ दिया है, उत्तराखंड में अच्छे और ईमानदार लोग है। लेकिन यहाँ के नेताउत्तराखंड को बर्बाद कर रहे हैं। जनता की व्यवस्था विकास से वर्तमान सरकार व विपक्ष को कुछ लेना देना नहीं है।

बीजेपी-कांग्रेस दोनों पार्टीयां के बीच उत्तराखंड वासी पीस रही है। bjp राज्य को बर्बाद कर रही है वही कांग्रेस के पास नेता नही हैं। दोनों पार्टियों को उत्तराखंड के विकास की चिंता नही है। आज महंगाई ने सबसे ज्यादा आम आदमी को परेशान किया है, लेकिन केंद्र सरकार सोई है।

केजरीवाल ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस और बीजेपी दोनों पर तंज कसा। कांग्रेस पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि एक पार्टी है जो अब 2 महीने में प्रदेश अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष पर फैसला नहीं कर पाती है तो दूसरी पार्टी 3 महीने के अंदर 3 मुख्यमंत्री बना देती है। एक विपक्ष की भूमिका निभाने में असफल है तो दूसरा सत्ता पक्ष में रहकर जनता की सेवा करने में विफल है।

केजरीवाल ने धामी सरकार पर तंज कसते हुए का यह जुमला जुमले वाली सरकार है। जिस तरह से 15-15 लाख का वादा किया था, वैसे ही 100 यूनिट बिजली मुफ्त देने का वादा इस सरकार ने किया है जो कभी पूरा होने वाला नहीं है

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अधिकांश उत्तराखंड वासी रहते हैं। वह जानते हैं कि हम लोग किस तरह काम करते हैं जो काम 70 साल में दिल्ली में नही हुआ वो आम आदमी पार्टी ने कर दिखाया। उत्तराखंड के लोगों ने मन बना लिया है कि इस बार आम आदमी पार्टी को लाना है।

केजरीवाल ने कहा की वह आज में बिजली के क्षेत्र में चार घोषणाएं करके जा रहा हूं। अगर राज्य में आम आदमी की सरकार आ जाएगी ,तो सरकार पहली कलम से 300 यूनिट बिजली मुफ्त देगी किसानों को फ्री बिजली दी जाएगी तथा पुराने बिल माफ किये जाएंगे।

उन्होंने कहा कि अगले महीने मैं देहरादून आऊँगा। पूरी होमवर्क के साथ अगली घोषणा करूंगा हमारे पार्टी के लिए घोषणा पत्र महत्वपूर्ण है।

अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस के अंत में केजरीवाल ने सभी दलों के नेताओं को आमंत्रित करते हुए कहा कि जो देशभक्त लोग हैं। उत्तराखंड से प्रेम करते हैं, उन्हें आम आदमी के साथ आना चाहिए और जनता के बीच जाना चाहिए। केजरीवाल ने आह्वान करते हुए कहा कि उनकी पार्टी में सब के दरवाजे खुले हैं।

Uttarakhand Goverment

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here